बुजुर्गों के लिए डाइट प्लान, क्या खाएं और क्या नहीं

सही खाना वह है जो सभी ज़रूरी पोषक तत्वों से भरा होता है, जिन में प्रोटीन, वसा, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन तथा खनिज ज़रूरी मात्रा में होते हैं।

कार्बोहाइड्रेट, वसा तथा प्रोटीन बॉडी को सक्रिय करने में हेल्प करते हैं, विटामिन तथा खनिज बॉडी की मेटाबॉलिक प्रोसेस को संतुलित करने में भूमिका निभाते हैं।

हर उम्र तथा वर्ग के लिए एक सही आहार चार्ट बनाए रखना बहुत ही ज़रूरी है। जब बात बुढ़ापे की हो तो यह विशेष रूप से ज़रूरी हो जाता है

वो इसलिए क्यूंकि बुढ़ापे में बॉडी वीक होने लगता हैं तथा अलग अलग बीमारियों की चपेट में आ जाता है, इस वजह से बुढ़ापे में खान पान का खास ध्यान रखना बहुत ही ज़ादा जरुरी होता हैं।

सही खाने की परिभाषा ऐज के साथ साथ बदलती है क्योंकि बॉडी का मेटाबॉलिज्म स्लो हो जाता है

ज़ादा पोषक तत्वों से भरा खाना बुढ़ापे में सही वजन बनाए रखने तथा फिट व एक्टिव रहने में हेल्प करता है।

जबकि, जब तक आपका फैमली डॉक्टर आपको कोई खास खाने का चार्ट नहीं बताये तब तक   आपको वृद्धा में एक सीमित आहार योजना का सख्ती से पालन करने की ज़रुरत भी नहीं है।

वृद्धा लोगों के लिए सही खाने का डाइट चार्ट बनाना फस्ट टाइम में थोडा कठिन लग सकता है। 

 इसको सरल बनाने में हेल्प करने के लिए, बूढ़े लोगों के लिए सही खाना विकल्पों की एक लिस्ट दी जा रही है